जसोलधाम ने आजादी के महापर्व पर बांटे 15 हजार लड्डू: | किशन सिंह बोले- ये सुराज्य के सपने को पूरा करने का महोत्सव

आजादी के अमृत महोत्सव और राष्ट्र जागरण के महोत्सव में श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान सामाजिक सरोकार करने में जुटी है। संस्थान ने हर साल की तरह इस बार भी बालोतरा की 40 स्कूलों में 15 हजार लड्डू का वितरण किया है।

संस्थान ने स्कूलों में आने वाली भावी पीढ़ी को आजादी के अमृत महोत्सव पर मुंह मीठा कर राष्ट्र निर्माण में संकल्पित होकर आगे बढ़ने की बात कही।

इस दौरान श्री राणी भटियाणी मंदिर संस्थान अध्यक्ष रावल किशन सिंह जसोल ने कहा कि ये महोत्सव, सुराज्य के सपने को पूरा करने का है। ये महोत्सव, वैश्विक शांति के विकास का महोत्सव है। आज भारत आजादी का जश्न मना रहा है। भारत के हर घर में तिरंगा लहरा रहा है, जो देश के लिए बलिदान देने वाले वीर सपूतों की याद दिलाता है।

उन्होंने कहा कि भारत माता की आजादी की इसी श्रृंखला में हम सभी को स्वतंत्रता के महान आदर्शवादी युवा, राष्ट्र प्रेमी, संत स्वामी विवेकानंद और गणराज्य के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम की शिक्षाओं और आदर्शमय जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव भारत की सामाजिक-सांस्कृतिक, राजनीतिक और आर्थिक पहचान को प्रगति की ओर ले जाने वाली सभी चीजों का एक मूर्त रूप है। ये महोत्सव लोगों को संस्कृति और उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास को याद करने और जश्न मनाने के लिए भारत सरकार की ओर से की जाने वाली एक पहल है। ये हम सब को गौरवपूर्ण इतिहास की ओर लेकर जाती है।

कार्यक्रम में अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) जेतमाल सिंह ने कहा कि ये महोत्सव भारत की जनता को समर्पित है, जिसने भारत को उसकी विकास यात्रा में आगे लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस दौरान उन्होंने कहा कि श्री राणी भटियाणी मन्दिर संस्थान भी सामाजिक सरोकारों का मूर्त रूप है। जो हमेशा अग्रणी रहता है। इस स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष में संस्थान अध्यक्ष रावल किशन सिंह के आह्वान पर यूसुफ खां (एमडी टेंट हाउस, जसोल) की ओर से 4 मदरसों में मिठाई वितरण किया।

Read Full Coverage on Dainik Bhaskar

Comments are closed.